Breaking News

जानिये धनतेरस पर क्या खरीदे और क्या ना खरीदे

हिन्दू समाज में धनतेरस सुख-समृद्धि, यश और वैभव का पर्व माना जाता है। इस दिन धन के देवता कुबेर और आयुर्वेद के देव धन्वंतरि की पूजा का बड़ा महत्त्व है। हिन्दू पंचांग के अनुसार कार्तिक मास की त्रयोदशी तिथि को मनाए जाने वाले इस महापर्व के बारे में स्कन्द पुराण में लिखा है कि इसी दिन देवताओं के वैद्य धन्वंतरि अमृत कलश सहित सागर मंथन से प्रकट हुए थे, जिस कारण इस दिन धनतेरस के साथ-साथ धन्वंतरि जयंती भी मनाई जाती है।इसी दिन लक्ष्मी गणेश जी की मिटटी या चांदी या सोने की प्रतिमाएं या उनके चित्र तथा बर्तन खरीद लें और उनका प्रयोग भी इसी दिन से आरंभ कर दें। सायंकाल मुख्य द्वार पर आटे का चैमुखी दीपक बना कर, चावल या गेहूं की ढेरी पर रखें। साथ में जल, रोली, गुड़ फूल नैवेद्य रखें । इसे आज से 5 दिन हर शाम जलाएं। यह पर्व दीवाली के आगमन की सूचना देता है।

धनतेरस पर क्या खरीदे-दीपावली से पहले धनतेरस पर घर में कुछ खास चीजें लाने से धन की प्राप्ति होती है।

Image result for गणेश लक्ष्मी की मूर्ति
गणेश लक्ष्मी की मूर्ति : गणेश लक्ष्मी की मूर्ति अवश्य खरीदें। गणेश लक्ष्मी की मूर्तियों को धनतेरस के दिन घर लाने से घर में धन संपत्ति का आगमन रहता है और पूरे सालभर घर में धन और अन्न की कमी नहीं होती। धातु का सामान जैसे सोना चांदी। इस दिन सोना चांदी खरीदने से व्यक्ति के भाग्य में इजाफा होता है। धातु से बने बर्तन और गहने खरीदने के लिए धनतेरस का दिन सर्वश्रेष्ठ है। इस दिन धातु का सामान घर में लाने से घर में सदैव लक्ष्मी बनी रहती हैं।ये भी पढ़िए : जिस घर में होती हे ये 5 चीज़े उस घर में लाख प्रयास करने पर भी नहीं रहती शांति
स्फटिक का श्रीयंत्र :  स्फटिक का श्रीयंत्र घर लाने से लक्ष्मी घर की ओर आकर्षित होती हैं। इसलिए धनतेरस के दिन स्फटिक का श्रीयंत्र घर लाएं और दीपावली की सांय को इसे लक्ष्मी पूजन स्थल पर रखकर इसकी पूजा करें। पूजा के बाद इस श्रीयंत्र को केसरिया कपड़े में बांधकर तिजोरी या धन स्थान पर रख दें, इससे सदा वहां बरकत बनी रहेगी।

Image result for झाड़ू

झाड़ू : झाड़ू को लक्ष्मी का प्रतीक माना जाता है। दीपावली के मौके पर नई झाड़ू को घर लाएं। इससे नकारात्मक शक्तियां घर से बाहर जाएंगी और साफ सुथरे घर में लक्ष्मी का आगमन होगा।ये भी पढ़िए : इस तरह रखेंगे कछुआ तो घर में आएगी ख़ुशहाली और पैसा
कौड़ी : कहा जाता है कि कौड़ी को घर में रखने से उस घर में कभी भी धनाभाव नहीं रहता। इसिलए धनतेरस के दिन कौड़ी खरीद कर घर लाएं और लक्ष्मी पूजा के समय इसे भी शामिल करें। पूजन के बाद इन कौडियों को लाल कपड़े में बांध कर तिजोरी या धन वाले स्थान पर रख दें। वहां कभी धन की कमी नहीं होगी।

Image result for शंख

शंख : शंख सुख समृद्धि और शांति का प्रतीक है। इस दिन शंख को घर लाएं और इसे दीपावली पूजन के समय बजाएं। इससे घर में लक्ष्मी का आगमन होगा और घर के अनिष्ट टल जाएंगे।ये भी पढ़िए 
नमक : दीपावली के मौके पर नमक का पैकेट भी घर लेकर आएं और इसे दीपावली के दिन इस्तेमाल भी करें। कहते हैं कि नमक खरीद कर लाने से साल भर धनाभाव नहीं होता और सुख समृद्धि घर में ही टिकी रहती है। दीपावली के दिन इसी नमक के पानी का पौंछा घर में लगाने से हमेशा के लिए दरिद्रता दूर हो जाती है।
Image result for धनिया

धनिया: धनिया धन का प्रतीक है। इसलिए इसे धनतेरस के दिन साबुत धनिया खरीद कर लाएं और दीपावली के दिन लक्ष्मी पूजा के समय इसकी भी पूजा करें। दीपावली पूजन के बाद घर के आंगन या गमलों में इसे बुरक दें। यह धनदायक है। धनतेरस के दिन घर में गूंजा लाएं क्योंकि इससे धनप्राप्ति के द्वार खुल जाते हैं। गूंजा के बीज धनतेरस के दिन लाकर घर में रख दें और लक्ष्मी पूजन के समय इन्हें भी पूजा में रखें।

धनतेरस पर ना खरीदें ये सामान-
Image result for शीशा

शीशा : शीशे का संबंध भी राहु से है, इसकी खरीदारी से बचें। अगर शीशा खरीदें तो ध्यान रखें वह

पारदर्शी अथवा धुधंला नहीं होना चाहिए।Image result for एल्युमीनियम के बर्तन

एल्युमनियिम के बरतन : एल्युमनियिम के बरतन न खरीदें। यह ऐसा धातु है जिस पर राहू का अधिपत्य होता है लगभग सभी शुभ ग्रह इससे प्रभावित होते हैं। इसी कारण अलुमिनियम का प्रयोग पूजा- पाठ और ज्योतिष की दृष्टि से नहीं किया जाता।
अलुमिनियम का प्रयोग वास्तुशास्त्र, स्वास्थ्य और ज्योतिष की दृष्टि से अत्यधिक हानिकारक माना जाता है।
नुकीला सामान जैसे चाकू, कैंची, छूरी और लोहे के बरतन।

About admin

Check Also

मौत को छोड़ कर सभी रोगों को जड़ से खत्म कर देती है यह चीज

दक्षिण भारत में साल भर फली देने वाले पेड़ होते है. इसे सांबर में डाला …