Breaking News

पाकिस्तानी बच्चा ऊंट चराते हुए पहुंचा भारत की सीमा पर, BSF ने किया बच्चे के साथ…

भारत और पाकिस्तान दो ऐसे देश हैं, जिनमे कभी सुलह नहीं हो सकती. क्यों कि भारत ने जितनी बार भी पाकिस्तान की तरफ दोस्ती का हाथ बड़ाया है, उतनी बार ही पाकिस्तान ने भारत की पीठ पीछे खंजर मारा है. इतना ही नहीं इन दो देशों की दुश्मनी इतनी पोपुलर है कि बॉलीवुड की बहुत सारी फिल्में भी इस पर बन चुकी हैं. जिनमे से “माँ तुझे सलाम”, “बॉर्डर” आदि फिल्में तो आप सब ने देखी ही होंगी. जब से पकिस्तान और भारत अलग अलग देश हुए है, तब से लेकर आज तक भारत और पकिस्तान एक दुसरे को नफरत की निगाह से देखते हैं. भले बात गेम्स की ही क्यों न की जाये, दोनों देश एक दुसरे को पीछे छोड़ने के लिए रात दिन एक कर देते हैं. अब बात आप क्रिकेट की ही कर लो, जब भी भारत और पकिस्तान का मैच होता है, तब पूरा भारत और पकिस्तान उस मैच को देखता है ता कि उनके साथ से उनके देश की टीम को हिम्मत मिल पाए और वह दूसरी विरोधी टीम को हरा पाएं. भारत और पकिस्तान के बीच मे बॉर्डर है जिसको बिना वीसा के क्रॉस करना कानूनी जुर्म है और इसके बदले मौत की सज़ा भी दी जाती है. कुछ ऐसा ही अजीबो गरीब मामला हाल ही में हमारे सामने आया है. जहाँ एक पाकिस्तानी बच्चा ऊंट चराते हुए गलती से पकिस्तान की सीमा लांग कर भारत आ गया. चलिए जानते हैं उस बच्चे को सरहद पार करने के इल्जाम में आखिर कौन सी सज़ा दी गयी…

जैसलमेर की सरहद से पहुंचा भारत

जानकारी के अनुसार भारत-पकिस्तान की जैसलमेर सरहद को पार करके एक बच्चा भारत पहुँच गया. खबरों के अनुसार इस बच्चे की उम्र महज 12 साल है. भारत में घुसते ही इसको भारतीय BSF सेना ने अपने घेरे में ले लिया और पूछताछ शुरू कर दी. पूछताछ के दौरान बच्चे ने बताया कि उसका नाम आसिफ है और उसके पिता का नाम हाजी है. वह दोनों पकिस्तान में ऊंट चरा रहे थे. तभी वह गलती से ऊंट के पीछे पीछे भारत आ गया. बच्चे का जवाब सुन कर भारतीय सेना ने उसकी तलाशी ली. तलाशी के बाद उन्हें बच्चे से कोई अवैद हथियार या आपत्तिजनक चीज़ नहीं मिल पायी.

BSF ने उठाया बच्चे के खिलाफ ऐसा कदम…

बच्चे के भारत की सीमा में दाख़िल होने के बाद, भारतीय बीएसएफ सेना ने पाकिस्तानी रेंजर्स के साथ फ्लैंग मीटिंग की. जिसके बाद उन्होंने उस बच्चे के बारे में पाकिस्तानी सेना को सूचित किया. पूरी जांच पड़ताल के बाद पकिस्तान सेना ने बताया कि वह उन्ही के देश का बच्चा है और गलती से ऊंट चराते हुए भारतीय सीमा में दाखिल हो गया था. ये सुनकर भारत ने उस बच्चे को पकिस्तान के हवाले कर दिया गया और उस बच्चे को वापिस उसके घर पहुंचा दिया गया.

भारतीय सेना हर बार सूझ बूझ से काम लेती है. अगर भारत की जगह कोई और देश होता तो शायद बिना सोचे समझे ही उस बच्चे को मार देता. लेकिन भारत ने ऐसा न कर के खुद को सबसे अच्छा और समझदार देश साबित कर दिखाया.

About admin

Check Also

मौत को छोड़ कर सभी रोगों को जड़ से खत्म कर देती है यह चीज

दक्षिण भारत में साल भर फली देने वाले पेड़ होते है. इसे सांबर में डाला …