Breaking News

सिर्फ 6 दिन सोते वक़्त 1 लौंग खाने से ऐसे परिणाम मिलेंगे कि आप हैरान रह जाएंगे

लौंग में यूजेनॉल होता है जो साइनस और दांद दर्द जैसी हेल्थ प्रॉब्लम को ठीक करने में मदद करता है। लौंग की तासीर गर्म होती है। इसलिए सर्दी-जुकाम होने पर लौंग खाएं या इसकी चाय बनाकर पीना फायदेमंद है।Image result for लौंग अगर आप लौंग के तेल का इस्तेमाल कर रहे हैं तो इसे नारियल तेल के साथ मिलाकर उपयोग करें ताकि इसकी गर्म तासीर से सेहत को नुकसान न हो। लौंग जीवनी शक्ति के कोशो का पोषण करता है। इसी कारण लौंग टी.बी और बुखार में एंटीबायोटिक का काम करता है। यह रक्तशोधक और कीटाणुनाशक होता है। लौंग में मुंह, आते और आमाशय में रहने वाले सूक्ष्म कीटाणुओं व सड़न को रोकने के गुण पाये जाते है।Image result for लौंग

आयुर्वेदिक दवा लौंग जीवाणुरोधी, एंटीसेप्टिक और एनाल्जेसिक के रूप में कार्य करता हैं। लौंग फैटी एसिड, फाइबर, विटामिन, ओमेगा -3 और खनिजों का अच्छा स्रोत है, साथ ही यह हमारे शरीर की रोग-प्रतिरोधक क्षमता को भी बढ़ाता है। आपको इसके फ़ायदे 6 दिन में महसुस होने लगेंगे। रात को सोते समय लौंग खाने से होने वाले फायदे इस प्रकार है।Image result for लौंग

असली लौंग की पहचान :

दुकानदार बेचने वाले लौंग में तेल निकला हुआ लौंग मिला देते है। अगर लौंग में झुर्रिया पड़ी हो तो समझे कि यह तेल निकाली हुई लौंग है। उसे ना खरीदे। लौंग से बहुत सी प्राकृतिक औषधीयाँ बनती है। आज हम आपको बताएँगे की 1 लौंग कितना कमाल का होता है, आइये जाने लौंग के फायदों के बारे में।Image result for लौंग

रात को लौंग से होने वाले 7 फ़ायदे :

श्वसन संक्रमण से छुटकारा :
लौंग एक प्राकृतिक दर्द निवारक हैं और साथ ही यह रोगाणु से भी बचाता हैं। लौंग गले की खराश से छुटकारा पाने में मदद करता है।Image result for श्वसन संक्रमण से छुटकारा

दांत दर्द से आराम :
आप कपास के एक टुकड़े की सहायता से थोड़ा-सा लौंग का तेल पीड़ादायक दाँत या अपने मसूड़ों पर लगाकर दर्द को कम कर सकते हैं। इसके अलावा यह संक्रमण को भी कम करेगा।Image result for दांत दर्द से आराम

सूजन कम करें :
पीड़ादायक मांसपेशियों की मालिश के लिए लौंग तेल का उपयोग करें, इससे आपको जल्द ही आराम हो जाएगा।Image result for सूजन कम करें

घावों का इलाज :
लौंग बहुत तीव्र होता हैं, घाव के इलाज के लिए जैतून के तेल में थोड़ा-सा लौंग का तेल मिलाकर घाव पर लगाएं, यह घाव को ठीक करने में मदद करेगा।Image result for घावों का इलाज

पाचन में सुधार :
लौंग उल्टी, दस्त, आंत्र गैस और पेट के दर्द को कम करने में सहायता करता हैं। बस थोड़ा सावधान रहें क्योंकि लौंग बहुत तीव्र होता है, इसका ज्यादा सेवन आपको परेशान कर सकता है।Image result for पाचन में सुधार

पेट की गैस :
2 लौंग पीसकर उबलते हुए आधा कप पानी में डालें। फिर कुछ ठंडा होने पर पी लें। इस प्रकार यह प्रयोग रोजाना 3 बार करने से पेट की गैस में फायदा मिलेगा।Image result for पेट की गैस

जी मिचलाना :
2 लौंग पीसकर आधा कप पानी में मिलाकर गर्म करके पिलाने से जी मिचलाना ठीक हो जाता है। लौंग चबाने से भी जी मिचलाना ठीक हो जाता है।Image result for जी मिचलाना

लौंग के अन्य 12 बेहतरीन फ़ायदे :

पाचन क्रिया का खराब होना :
लौंग 10 ग्राम, सौंठ 10 ग्राम, कालीमिर्च 10 ग्राम, पीपल 10 ग्राम, अजवायन 10 ग्राम को मिलाकर अच्छी तरह पीसकर इसमें एक ग्राम सेंधानमक मिलाकर रख लें। इस मिश्रण को एक स्टील के बर्तन में रखकर ऊपर से नींबू का रस डाल दें। जब यह सख्त हो तब इसे छाया में सुखाकर 5-5 ग्राम की मात्रा में भोजन के बाद सुबह और शाम पानी के साथ लें।Image result for पाचन क्रिया का खराब होना

गठिया रोग :
लौंग, भुना सुहागा, एलुवा एवं कालीमिर्च 5-5 ग्राम को कूट-पीस लें और घीग्वार के रस में मिलाकर चने के आकार के बराबर की गोलियां बनाकर छाया में सुखा लें। उसके बाद एक-एक गोली सुबह-शाम लेने से गठिया का रोग नष्ट हो जाता है।Image result for गठिया रोग

चक्कर आना :
सबसे पहले दो लौंग लें और इन लौंगों को दो कप पानी में डालकर उबालें फिर इस पानी को ठंडा करके चक्कर आने वाले रोगी को पिलाने से चक्कर आना बंद हो जाता है।Image result for चक्कर आना

साइटिका :
लौंग के तेल से पैरों पर मालिश करने से साइटिका का दर्द खत्म हो जाता है।

टांसिल का बढ़ना :
एक पान का पत्ता, 2 लौंग, आधा चम्मच मुलेठी, 4 दाने पिपरमेन्ट को एक गिलास पानी में मिलाकर काढ़ा बनाकर पीना चाहिए।Image result for टांसिल का बढ़ना

दांतों का दर्द :
5 ग्राम नींबू के रस में 3 लौंग को पीसकर मिला लें। इसे दांतों पर मलें और खोखल में लगायें। इससे दांतों का दर्द नष्ट होता है।

दमा या श्वास रोग :
दो लौंग को 150 मिलीलीटर पानी में उबालें और इस पानी को थोड़ी सी मात्रा में पीने से अस्थमा और श्वास का रुकना खत्म हो जाता है।Image result for दमा या श्वास रोग

दांत के कीड़े :

कीड़े लगे दांतों के खोखल में लौंग के तेल को रूई में भिगोकर रखें। इससे दांत के कीड़े नष्ट होते हैं और दर्द कम होता है।

कब्ज :
लौंग 10 ग्राम, कालीमिर्च 10 ग्राम, अजवायन 10 ग्राम, लाहौरी नमक 50 ग्राम और मिश्री 50 ग्राम को पीसकर छानकर नींबू के रस में डाल दें। सूखने पर 5-5 ग्राम गर्म पानी से खाना खाने के बाद खुराक के रूप में लाभ होता है।Image result for कब्ज

कमरदर्द :
लौंग के तेल की मालिश करने से कमर दर्द के अलावा अन्य अंगों का दर्द भी मिट जाता है। इसके तेल की मालिश नहाने से पहले करनी चाहिए।

About admin

Check Also

मौत को छोड़ कर सभी रोगों को जड़ से खत्म कर देती है यह चीज

दक्षिण भारत में साल भर फली देने वाले पेड़ होते है. इसे सांबर में डाला …